Nice Day India

Tuesday, 8 August 2017

एक रूपये में दो लाख बीमा (insurance) चाहिए तो अभी क्लिक कीजिये, ये कोई मजाक नहीं है सच है

एक रूपये में एक लाख बीमा (insurance) चाहिए तो अभी क्लिक कीजिये, ये कोई मजाक नहीं है सच है
IMAGE SOURCE: BASUNIVES.COM




नमस्कार दोस्तों मैं निरु शेखावत एक बार फिर से हाजिर हूँ, एक और आर्टिकल के साथ दो रूपये में एक लाख का बिमा (insurance)  ये कोई मजाक नहीं है सच है अगर आपको मजाक लग रहा है तो इस आर्टिकल को एन्ड तक पढ़िए आपको भी पता चल जायेगा एक रूपये में एक लाख का बिमा कैसे करवा सकते हैं.

आज की भागम-भाग भरी जिंदगी में हम खाना पीना सब भूल चुके हैं. आज के मसिनी युग में  लाइफ जितनी आसान होती जा रही है उतनी ही जीवन की रिस्क बढ़ती जा रही हैं. जहाँ पुराने समय में बहुत कम साधन होते थे वही आज हर घर में कोई न कोई व्हीकल है. अगर हमे थोड़ा सा भी पैदल चलना होता है तो हमे आलस आता है और हम सीधा अपना व्हीकल उठाते हैं और पहुँच जाते हैं अपने गन्तव्ये स्थान पर. insurance


और सबसे ज्यादा चौकाने वाले हादसे सामेने आ रहे हैं इस मोबाइल युग में जिस तरह इनसान इस नयी तकनीक को अपना रहा है उतना ही केयरलेस भी होता जा रहा है. आज हैंडफ्री या ब्लूटूथ कान में लगा कर चलना आम बात है अगर आप सड़क पर १०० लोगों को रोड पर करते हुए देखते हैं तो आपको पता लग जायेगा कितने लोग अपने मोबाइल से बात करते हुए निकलते हैं. या उनके कान में लगा एयर फोन उनको, उनका मन पसंद म्यूजिक तेज आवाज में सुन रहा होता है.  insurance


अब हम बात करते हैं म्यूजिक सुनते हुए रोड क्रॉस करने की, लोग अपने मन पसंद म्यूजिक को सुनने में इतने खो जाते हैं की वो ये तक भूल जाते हैं की वो रोड पर चल रहे हैं. ये सिर्फ पैदल चलने वालों के लिए नहीं है ये कार, बस, ट्रक सभी के लिए है जो भी ड्राइविंग करते हैं उनके लिए म्यूजिक ही सब कुछ हो जाता है और वो खो जाते हैं म्यूजिक में उनका खोना ही अंजाम देता है भयंकर हादसे को आज किसी भी न्यूज़ पेपर को उठा कर देख लीजिये २-३ खबर तो एक्सीडेंट की होती हैं.   insurance



होनी को कोई नहीं ताल सकता और ऐसे ड्राइवर्स को भी कोई नहीं बदल सकता है लेकिन हम अपने आपको बदल सकते हैं. हमारे बाद हमारी फॅमिली का क्या होगा ये सोचने का विषय है. हमे अपने फ्यूचर के साथ ही साथ फॅमिली के फ्यूचर के बारे में भी सोचना चाहिए और अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहियें। हम खुद से अपनी जिम्मेदारी निभाएं लाइफ इन्सुरन्स का एक स्लोगन है जो हमे कभी नहीं भूलना चाहिए "जिंदगी के साथ भी और जिंदगी के बाद भी" इसमें हमारे पुरे जीवन का सार है. चलिए अब चलते हैं अपने मैन मुद्दे की तरफ.

एक रूपये में बीमा ये कोई मजाक नहीं है और ना ही क्लिक करवाने का कोई लिंक जिस पर क्लिक करवा कर दस लोगों को भेजने के लिए नहीं बोला जायेगा यहाँ मैं बात कर रही हूँ प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की जिन्होंने ये इन्शुरन्स स्कीम लॉन्च की थी अपना सेविंग अकाउंट खुलवाएं और बारह रूपये सालाना में बिमा करवायें बारह रूपये सालाना मतलब एक रुपया महीना और इस व्यक्तिगत दुर्घटना बिमा में दो लाख रूपये का रिस्क कवर मिलता है.


है ना सरकार की ये एक जबरदस्त स्कीम इस स्कीम का लाभ उठाने के लिए आपको कुछ नहीं करना बस अपने बैंक अकाउंट में जा कर इन्शुरन्स करवाना था. जन धन से जन सुरक्षा योजना, ये बैंक खाता भी जीरो रूपये बैलेंस पर खोला गया था. हमे सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए थोड़ा सजग रहना पड़ेगा। ऐसी बहुत सारी  योजनाएं है भारत सरकार की जिनके बारे में हमे पता भी नहीं चलता और हम उसका लाभ उठाने से वंचित रह जाते हैं.




उम्मीद है आपको मेरा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर मेरा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो कृपया इसको लिखे और शेयर करना ना भूलें और हाँ सब्सक्राइब करना आपका अधिकार है. आपको बिना मेरे से पूछे सब्स्क्रिबे कर सकते हैं,  मै आपके लिए इसी तरह अच्छे अच्छे आर्टिकल लाती रहती हूँ. धन्यवाद।    
     

Share:

0 comments:

Post a Comment

Copyright © Nice Day India | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com